भारत में अपना मोबाइल शॉप कैसे शुरू करें

मोबाइल अब दुनिया में सभी लोगों के लिए एक आम जरुरत बन चुका है| हर कोई अब स्मार्टफोन इस्तेमाल करता है यहाँ तक की बच्चे भी अब इसके आदि हो चुके हैं| मोबाइल दूसरे से जुड़ने के बजाय अब मनोरंजन के लिए इस्तेमाल होने लगा है| पिछले एक दशक से भारत में मोबाइल कम्पनियाँ और अलग अलग तरह के इंटरनेट प्लान कुछ ज्यादा हीं बढ़ गए है, जैसे की JIO , जिसने इंडियन मार्केट में इतने सस्ते डाटा प्लान लागू किए|

इसमें कोई शक नहीं की भारत में मोबाइल शॉप खोलना छोटे व्यवसाय के लिए एक बेहतरीन उपाय है|

मोबाइल शॉप वाले दिन के बिक्री के आधार पर लगभग 20 % मुनाफ़ा कमा लेते हैं फिर भी लगभग 80 % मोबाइल शॉप 2 साल के अंदर नुकसान के कारण बंद हो जाती है| इस व्यवसाय को कोई भी आसानी से शुरू कर सकता है और इसी वजह से इसमें बहुत सरे प्रतिद्वेंदी होते हैं| पर फिर भी अगर देखा जाए तो मार्केट प्रक्रिया को नज़र में रखते हुए यह कहा जा सकता है की अगर इस व्यवसाय को ठीक से चलाया जाए तो भविष्य में इसमें बहुत मुनाफ़ा होगा|

आपके मोबाइल शॉप खोलने के निश्चय को साकार  करने में और आपको सफलता दिलाने में नीचे दिए यह कुछ  स्टेप आपकी मदद करेगा|

1 ) अपने मोबाइल शॉप के लिए लिसेंसे लें

एक छोटा से छोटा मोबाइल शॉप जिसमें सिर्फ २ लोग ही क्यों न हों लगभग 10 लाख की बिक्री करता है साल में| इसलिए मोबाइल शॉप को लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनर-शिप (LLP ) के अंतर्गत खोलना सही होगा| खासकर यह तब उपयोगी है जब आप अपना दुकान बड़े बड़े जगहों जैसे की मॉल पर खोलना चाहते हैं या फिर आप इ-कॉमर्स के माध्यम से फ्लिपकार्ट,अमेज़न स्नैपडील वग़ैरा पर ऑनलाइन बिक्री करना चाहते है| अपना GST  पंजीकरण यहाँ करें- https://reg.gst.gov.in/registration/

अगर आप सस्ते दामों के लिए अपने मोबाइल शॉप के उपकरण दूसरे देशों जैसे चीन से इम्पोर्ट करना चाहते हैं तो आपके पास IE कोड होना चाहिए-  https://dgft.gov.in/

2 ) पता करें की दूसरे मोबाइल दुकान वाले क्या बेचते हैं

  • अपने आस पास की दुकानों से पता करें की मोबाइल दुकान वाले क्या क्या उपकरण रखते हैं| आप सिर्फ मोबाइल फ़ोन ही नहीं रख सकते हैं| मोबाइल फ़ोन के साथ आपको हेडफ़ोन, केबल, मेमोरी कार्ड इत्यादि भी रखने होंगे| इससे आपको अतिरिक्त इनकम भी प्राप्त कर सकते हैं और साथ हीं आपके ग्राहकों को सभी जरुरत की चीज़ें एक हीं जगह पर मिल जाएगी| 
  • अपने मोबाइल शॉप के व्यवसाय में आप कौन कौन से उपकरण ख़रीद कर बेच सकते हैं इसकी सूची बना लें|
  • अपने ग्राहकों को देख कर अनुमान लगाएँ की उनकी मांग क्या क्या है| सभी सामान जो आपके शॉप पर है उनका मूल्य पता करें| यह बहुत आवश्यक है क्योंकि कई सामान के डैम अलग लग जगहों पर अलग अलग होती है|

3 ) अपने सामान को अच्छे से समझ लें

  • सभी लोगों को तकनीकी ज्ञान नहीं होता है| पर एक मोबाइल दुकान का मालिक होने के नाते आपको अलग अलग ब्रांड के मोबाइल के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए| लोगो को अच्छा लगता है जब उन्हें मोबाइल खरीदने कोई मदद करता है जैसे की अगर कोई ग्राहक निश्चय नहीं कर प् रहा की वह कोनसा मोबाइल ले और ऐसे में आप उसे बताएं की कोनसे मोबाइल में क्या अच्छा है और क्या नहीं तो उन्हें मोबाइल खरीदने में आसानी हो जाएगी और वह आपकी सर्विस से प्रसन्न भी होंगे|

4 ) सेल फ़ोन के व्यवसाय में अपनी पूँजी लगाने से पहले इसके मार्केट को समझ लें

  • भारत में मोबाइल शॉप खोलना एक अच्छा व्यवसाय हो सकता है पर पहले उन लोगों को समझ लें जो इस व्यवसाय में पहले से हैं|
  • कोशिश करें की आप अपने प्रतिद्वेंदियों से दूर रहें|
  • अपना बजट तय कर लें और अपने बजट से अधिक कभी खर्च न करें|

5 ) मोबाइल शॉप के दिनचर्या को सीखें

मोबाइल शॉप में कई काम होते हैं| पता करें की:

  • आपके ग्राहक कौन कौन हैं?
  • मार्केट में आपके व्यवसाय के चलने के कितने आसार हैं?
  • आपको शुरुवात में कितनी पूँजी लगनी होगी|
  • जरुरी क़ानूनी करवाहिया| इत्यादि|

6 ) ऐसी जगह ढूंढे जहाँ बिक्री होने के अधिक आसार हैं|

  • ऐसी जगह पता करें जहाँ आपके प्रतिद्वेंदी काम हों और मोबाइल फ़ोन और उससे जुड़े उपकरणों के मांग भी हो|
  • मार्केट के चल रहे मूल्यों के बारे में आपको पता होना चाहिए|

7 ) अपने मोबाइल स्टोर को सेट करने के लिए जगह ढूंढे

एक मोबाइल स्टोर सेट करने के लिए आपको लगभग 150 स्क्वायर फुट के बराबर जगह की जरुरत होगी| आपके स्टोर में सभी कुछ सही से लगे होने चाहिए जैसे, कैमरा, लाइट, डिस्प्ले केस इत्यादि|अपने दुकान को आप कांच की मदद से अच्छी तरह से सजा सकते हैं|

8 ) पेमेंट के सभी तरीकों को मंज़ूर करें

कई तरह के ग्राहक होते हैं, कुछ लोग नकद देते हैं, कुछ ऑनलाइन पेमेंट करते हैं, कुछ लोग मज़बूरी में उधर लेने कि भी इच्छा रखते हैं| ऐसे में अगर आप सख़्ती से पेश आएँगे तो हो सकता है कि आपके कई ग्राहक कहीं और चलें जाएँ| आपको हमेशा अपने ग्राहकों कि सुविधा का ख्याल रखना चाहिए|

9 ) स्थानीय स्तर पर प्रचार करें

मोबाइल स्टोर में ज़्यादातर स्थानीय लोग आते हैं| इसलिए मोबाइल स्टोर का प्रचार कई तरीकों से किया जा सकता है, आप अख़बार की मदद ले सकते हैं, पर्चे बाँट सकते हैं, इत्यादि|

अपने व्यवसाय के बारे में सभी को बताएं और अपनी बिक्री बढ़ाएं|

10 ) उन उपकरणों पर खर्च करें जिनकी बिक्री जल्दी हो रही है

मोबाइल स्टोर में आपकी काफी पूँजी लग जाती है इसलिए अपने मुनाफ़े के लिए आपको उन उपकरणों पर खर्च करने की आवश्यकता है जिनकी बिक्री जल्दी हो रही हो| ताकि आप नुकसान से बच सकें| 

अलग अलग तरह के उपकरण पर खर्च करें जैसे- हेडफ़ोन, स्क्रीन-गार्ड, एअरफोन्स, मोबाइल फ़ोन सेट्स, पावर बैंक, मोबाइल कवर, ब्लूटूथ,इत्यादि|

11 ) अपना मूल्याङ्कन  सोच समझ कर करें

  • आम चीज़े जैसे, ईरफ़ोन, मोबाइल कवर, स्क्रीन-गार्ड इत्यादि पर डिस्काउंट दें और इसकी भरपाई दूसरे छोटे उपकरणों से करें|
  • आमतौर पार इस्तेमाल होने वाली वस्तुएँ जैसे मोबाइल कवर और स्क्रीन-गार्ड जैसी चीज़ों के लिए ग्राहकों से अधिक पैसे न लें इससे वो ना-खुश होंगे और हो सकता है की आपके दुकान पर आना बंद कर दें|

12 ) अपने ग्राहकों को ख़रीददारी में सुविधा प्रदान करें

ग्राहकों को PayTM , Gpay , क्रेडिट कार्ड इत्यादि इस्तेमाल करने की अनुमति दें| अगर कभी उनके पास कैश कम पड़ जाए तो उन्हें बाद में पेमेंट करने का विकल्प दें| जब ग्राहक आपसे संतुष्ट होते हैं तो वह आपके दुकान की चर्चा दूसरे लोगों से करते हैं और उन्हें भी आपकी दुकान पर जाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं| यह अक्सर होता है|

13 ) अपने ग्राहकों को सभी कुछ एक ही जगह उपलब्ध कराए

  • अपने ग्राहक को जरुरत की सभी चीज़ें उपलब्ध कराए और ध्यान दें की उन्हें आपके प्रतिद्वेंदी के पास जाना न पड़े|
  • अपने सप्लायर से बात कर के उन ज़रूरी चीज़ों को जल्द से जल्द माँगा लिया करें जिनकी मांग अधिक होती है|

14 ) अपने मोबाइल स्टोर की इन्वेंटरी मेन्टेन करें

आपको अपने स्टॉक को हर हफ्ते चेक करना चाहिए ताकि जो समान जल्दी ख़तम हो रहें है आप उन्हें समय रहते मंगवा लें|

आप ” Vyapar “ जैसे इन्वेंटरी मैनेजमेंट एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं| इससे आप अपने इन्वेंटरी को अच्छे से ट्रैक कर पाएंगे| इसकी मदद से आपको जल्दी ख़तम होने वाले समान की जानकारी अपनेआप मिल जाएगी| अपने ग्राहक को कभी भी स्टॉक ख़तम होने की वजह से निराश न करें|

15 ) बिक्री के बाद सपोर्ट करें

अगर बिक्री के बाद कोई दिक्कत आती है तो यह आपकी ज़िम्मेदारी है कि आप ग्राहक की समस्या दूर करने की उनकी मदद करें|

अगर आपको एप्लीकेशन इनस्टॉल करने जैसी छोटी से छोटी गुज़ारिश भी आती है तो उसे पूरा करें| इससे आपके ग्राहकों के साथ अच्छे रिश्ते बनेंगे|

आख़िरकार क्वालिटी (गुणवत्ता) सबसे बेहतरीन व्यवसाय योजना  है| 

नए बिज़नेस टिप्स के उपदटेस के लिए जुड़े रहें Vyaparapp.in पर  

डाउनलोड करें बेहतरीन फ्री बिलिंग सॉफ्टवेयर

Happy Vyaparing!!!

You May Also Like

Leave a Reply