भारत में आने वाले रिसेशन की वजह से छोटे वयवसायों पर तीन तरीकों से असर पड़ सकता है

 

हर किसी को यह ज्ञात नहीं है की भारत में आर्थिक रिसेशन की वजह से सभी को किसी ना किसी तरीके से नुकसान होता हीं है| साथ हीं दुखद सत्य यह भी है की कुछ व्यवसायों पर दूसरों से अधिक असर पड़ता है|

बहुतों की नौकरी चली जाती है, व्यवसाय की गति धीमी हो जाती है, अर्थव्यवस्था में भी काफी असर पड़ता है| यह कहना गलत नहीं होगा की आपके जैसे छोटे व्यवसाय वालों को गहरी चोट मिलती है| कुछ लोगों का नुकसान इतना अधिक होता है की बड़े दुःख के साथ उन्हें अपना व्यवसाय बंद  करना पड़ता है परन्तु कुछ लोग ऐसे अर्थव्यवस्था के हालत से निकलने के कुछ अनोखे तरीके ढ़ूँढ़ लेते हैं|

 अधिकतर यह देखा गया है की सर्विसेज और लक्ज़री चीज़ो पर सबसे ज्यादा असर पड़ता है और नुकसान भी इन्हीं में अधिक होता है क्योंकि ऐसे आर्थिक समय में लोग ख़र्च काम कर के बचत शुरू कर देते हैं| यह देखा गया है की लोगों की  पर्चासिंग पावर (खरीदने की क्षमता ) पहले से हीं 43% काम हो चुकी है| खासकर पिछले 6 महीनों में पसेंजर वाहन की बिक्री, ट्रैक्टर्स की बिक्री, दो पहिया वाहन की बिक्री, रियल स्टेट की बिक्री, इत्यादि का स्तर काफी कम हो गया है|

 

भारत में आने वाला रिसेशन कुल किस तरह से छोटे व्यवसायों पर असर करेगा यह यहाँ दिया हुआ है:

 

1 . ग्राहकों के भुगतान (पेमेंट ) में देरी होती है!

छोटे व्यवसाय जैसा आपका है, काफी सख्त कैश फ्लो पर कम करे हैं| जैसे हीं रूपए आते हैं वैसे हीं बहार चले जाते हैं, और यदि किसी ग्राहक से भुगतान मे देरी होती है तो व्यवसाय को चलने में काफी दिक्कत होती है|

क्या आपको पता है की रिसेशन में क्या होता है? रिसेशन के समय में भुगतान में बहुत देरी होती है| आपके ग्राहक या तो ख़रीद में देरी करते हैं या फिर भुगतान में क्योंकि वो खुद हीं अपने तनख्वा का इंतज़ार कर रहे होते हैं| इसी प्रकार से इस प्रक्रिया के अंतर्गत भुगतान का भार एक विक्रेता से दूसरे, दूसरे से तीसरे पर ट्रांसफर होते जाता है|

ऐसे हालत में विक्रेता उधार पर सामान देना बंद कर देते हैं जिसकी वजह से व्यवसाय की गति और धीमी हो जाती है|   

 

2 ) आप अपने ग्राहकों को खो देंगे: मांग में कमी!

रिसेशन के दौरान आपके ग्राहकों की खरीदने की क्षमता काफी कम हो जाती है|   आप जैसे छोटे व्यापारी जो अपने अधिकतर आय के लिए ऐसे ग्राहकों पर ही निर्भर होते हैं उनकी आर्थिक स्थिति में काफी तंगी होती है|

आपकी आय में देखने लायक कमी हो सकती है अगर इनके जैसे ग्राहक ख़रीददारी कम कर दें या पूरी तरह से ख़रीददारी बंद कर दें तो| आप अपने ग्राहकों को सामान ना बेच पाने की वजह से काफी नुकसान झेल सकते हैं| इस वजह से आपको अपने दैनिक व्यवसाय को चलने में आ रही दिक़्क़तों के साथ यह भी हो सकता है की आपको अपने ग्राहकों से  बकाया भुगतान भी ना मिले|

 

3 ) आपको शायद अपने बजट को सीमित करना पड़े!

व्यवसाय में हो रहे नुकसान की वजह से आपको जहाँ संभव हो सके वहाँ से अपने बजट में कटौती करनी पड़ सकती है| हो सकता है आपको अपने कार्यकर्ता कम करने पड़े| कुछ कम कार्यकर्ता हो सकते है बाकी बचा काम करने के लिए| इस वजह से आय बढ़ने के अवसर और कम हो जाते हैं क्योंकि बचे कार्यकर्ता काफी चिंतित और परेशान होते हैं|

बजट में कटौती करने के लिए प्रचार से जुड़ी सभी प्रक्रिया को बंद करना पड़ता है जिस वजह से नए ग्राहक नहीं मिलते| 

 

GST से संबंध्ति और नई खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ Vyaparapp.in पर।

बेहतरीन GST Accounting Software डाऊनलोड करें 

Happy Vyaparing!!!

vyaparapp, business accounting, invoicing app. billing, create invoice

You May Also Like

Leave a Reply