भारत में छोटे व्यवसायों के लिए दिए जाने वाले 5 लोन ( ऋण)

क्या आप कोई छोटा व्यवसाय या व्यवसाय शुरू करने के लिए लोन लेना चाहते हैं? अगर आपका जवाब हाँ है तो आपको इसे पढ़ के बहुत ख़ुशी होगी!

व्यवसाय शुरू करने की पूँजी के ख़ातिर लोन लेना बहुत मुश्किल लग सकता है अगर आपके पास पर्याप्त और सही जानकारी नहीं है तो| चिंता न करें! यह 5  लोन आपको अपना व्यसवय शुरू करने में आर्थिक रूप से मदद करेगी|

1 घंटे से भी काम समय में छोटे व्यावसायिक लोन

कई छोटे व्यापारी अब ’59 min में MSME स्टॉर्टअप बिज़नेस लोन’ लेने की सोचते हैं| यह स्कीम 2018 में पहली बार Vypara द्वारा घोषित किया गया था जिसमें बहुत काम इंटरेस्ट रेट रखा गया था| यह लोन छोटे व्यापारियों को प्रोत्साहित करने के लिए दिया जाता है ताकि वो अपने व्यवसाय में प्रगति कर सकें| यह उन्हें दिया जाता है जिन्होंने अभतक अपना व्यवसाय शुरू नहीं किया हो| इसमें आप 1 करोड़ तक का लोन ले सकते हैं| आपके लोन को 59 मिनट में मंजूरी मिल जाएगी और 11 दिन में आपको रूपए मिल जायेंगे| अलग अलग व्यवसाय के लिए अलग अलग इंटरेस्ट रेट लगते हैं|

छोटे व्यावसायिक लोन के लिए आपको बस इन चीज़ों की ज़रूरत होगी:

1 ) GST वेरिफ़िकेशन

2 ) आयकर वेरिफ़िकेशन

3 ) पिछले 6 महीने के बैंक अकाउंट स्टेटमेंट

4 ) व्यवसाय के मालिक से जुड़े दस्तावेज़

5 ) KYC की जानकारी 

 

अगर आपके पास यह सभी है तो लोन के लिए यहाँ अर्जी दें >>

 

मुद्रा लो-क्रेडिट लोन 

भारत सरकार के इस स्कीम के अंतर्गत छोटे व्यापारी जो मैन्युफैक्चरिंग, ट्रेडिंग या सर्विस के क्षेत्रों में व्यवसाय कर रहे हैं उन्हें लोन दिया जाता है| अगर आपका कोई बहुत ही छोटा व्यवसाय है या आपके पास नया व्यवसाय शुरू करने के लिए कोई पूँजी नहीं है तो यह आपके लिए है| लो कास्ट कैपिटल के नए व्यावसायिक लोन सरकारी बैंकों, ग्रामीण बैंक, छोटे बैंक, निजी बैंक,सहकारी समितियों इत्यादि के द्वारा प्रदान की जाती है|

मुद्रा स्कीम के अंतर्गत 3 तरह के लोन दिए जाते हैं:

1 ) शिशु लोन – Rs 50000/- तक 

2 ) किशोर लोन – Rs  500000 /- तक

3 ) तरुण लोन – Rs  1000000 /- तक

 

CGMSE कोलैटरल- फ्री लोन्स

क्रेडिट गैरेंटी फंड स्कीम फॉर माइक्रो एंड स्माल एन्टेर्प्रिसेज़ (CGMSE ) को MSME  को आर्थिक सहायता करने के लिए लाया गया था|

आप अपने वर्तमान के व्यवसाय के साथ साथ नए व्यवसाय के लिए भी बिना किसी कोलैटरल के लोन ले सकते हैं| इसके अंतर्गत आपको ये सब मिल सकता है:

1 ) Rs 10 लाख तक लोन बिना किसी कोलैटरल के 

2 ) Rs 10 लाख से Rs 1 करोड़ के लोन के लिए क्रेडिट गैरेंटी के अंतर्गत कोलैटरल की जरुरत होगी|

ट्रस्ट फॉर माइक्रो एंड स्माल एन्टेर्प्रिसेज़ (CSTMSE )

 

नेशनल स्माल इंडस्ट्रीज़ कॉरपोरेशन सब्सिडी फॉर रॉ  मटेरियल और मार्केटिंग हेल्प (NSIC )

इसके अंतर्गत 2 तरह से आर्थिक मदद मिलती है:

1 ) रॉ  मटेरियल असिसटेंट : इसमें खुद का और इम्पोर्ट किया हुआ दोनों कच्चे माल की लागत शामिल होती है

2 ) मार्केटिंग असिसटेंट: SMEs को अपने प्रोडक्ट/सर्विस का प्रचार करने के लिए फंड दिए जाते हैं|

 

क्रेडिट लिंक कैपिटल सब्सिडी स्कीम फॉर टेक्नोलॉजी उपग्रडेशन (CLCSS )

यह लोन छोटे व्यवसायों को या नए व्यवसायों को अपने व्यवसाय को डिजिटल करने में मदद करता है| इसमें कई तकनीकी चीज़े जुड़ी हो सकती है जैसे, एकाउंटिंग, बिलिंग, इत्यादि| 

उदाहरण: व्यवसाय को चलना थोड़ा आसान हो जाता है अगर आप एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करते हैं| CLCSS योग्य व्यापारियों की 15 % सब्सिडी देती है| पर इसके अंतर्गत ज़्यादा से ज़्यादा 15 लाख का लोन ले सकते हैं|

 

बेहतर उपाय: vyapar की ओर से आसान डिजिटल व्यवसाय लोन

हालांकि कई व्यावसायिक लोन स्कीम हैं पर फिर भी इन्हें पाने के लिए बहुत कुछ करना होता है| अगर आप लोन के लिए पूरी तरह से योग्य नहीं है तो इन सरकारी लोन को प्राप्त करने के लिए 12 महीने तक भी लग सकते हैं|

वहीँ दूसरी ओर vyapar जैसे एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर से आप 72 घंटों के अंदर लोन ले सकते हैं| आपको बस लोन के लिए अर्जी देनी होगी, आपके लोन को उसी दिन मंजूरी मिल जाती है जिस दिन आपने अर्जी दी| उसके बाद आपको अपने सरे क़ागज़ात ऑनलाइन अप-लोड करने होंगे वेरिफ़िकेशन के लिए| इन सभी प्रक्रिया में मुश्किल से 10 मिनट लगता है और लेनडिंग्कार्टके द्वारा आपके क़ागज़ात ३ दिन में वेरीफाई हो जाते हैं|

 

vyapar से छोटे व्यसायिक लोन प्राप्ति के लिए यहाँ क्लिक करें

GST से संबंध्ति और नई खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ Vyaparapp.in पर।

बेहतरीन GST Accounting Software डाऊनलोड करें 

Happy Vyaparing!!!

 

You May Also Like

Leave a Reply