Home » Business Tips » 15 छोटे व्यावसायिक योजना जो छोटे शहरों और गावों में भी किया जा सकता है

15 छोटे व्यावसायिक योजना जो छोटे शहरों और गावों में भी किया जा सकता है

  • by

आज भी भारत की अधिकतम जनसंख्या गावों में रहती है| गाँव और शहर में व्यवसाय के लिए अलग अलग प्रावधान होते हैं| यह बात सत्य है कि किसी भी व्यवसाय के लिए अलग ही व्यवस्था की आवश्यकता होती है अलग ही ज़रूरतों हैं| पर इसका मतलब यह नहीं की ग्रामीण क्षेत्रों में व्यवसाय का कोई अवसर नहीं है|

ग्रामीण क्षेत्रों में भी व्यवसाय के कई अवसर हैं| कई व्यवसाय ऐसे हैं जो सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों में हीं किये जा सकते हैं जैसे की कृषि से सम्भदित व्यवसाय|

गाँव में स्थित किसी इंसान के लिए अपने गाँव में हीं अपना व्यवसाय शुरू करना फ़ायदेमंद होगा| अपने क्षेत्र में व्यवसाय शुरू करने में आपका अधिक खर्च भी नहीं होगा और आप अपने व्यवसाय का प्रचार भी अच्छे से कर पाएंगे क्योंकि वहां सभी आपके पहचान वाले होंगे|

अगर आप ऐसे ही किसी ग्रामीण क्षेत्र में रहते हैं और आप अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो नीचे दिए यह व्यावसायिक योजनाएं आपकी मदद करेगा:

1)आर्गेनिक उत्पादन

2)पोल्ट्री फार्म

3) मछली पालन

4) दूध सेंटर

5 ) फ़र्टिलाइज़र की दुकान

6) पीने  का पानी सप्लाई करना 

7) दुकान

8) आटा चक्की

9) थ्रेशिंग मशीन

10) तेल मिल

11) फूलों की खेती

12) स्वतंत्र लेखक

13) स्वतंत्र ब्लॉगर

14) वाहन मरम्मत की दुकान

15)ट्यूशन सेवा

1)आर्गेनिक उत्पादन

  • आजकल उत्पादन बढ़ाने के लिए लोग वैक्सीन या दवाइयों का सहारा लेते हैं जिसके कारण फल या सब्ज़ियाँ समय से पहल हीं बेचने लायक हो जाते हैं और उनका वजन  भी बढ़ जाता है| इससे लोग अधिक राशि कमा पाते हैं और इन्हीं कारणों से आर्गेनिक पदार्थों की मांग बढ़ती जा रही है|
  • आप अपना आर्गेनिक फार्मिंग शुरू कर सकते हैं और अपने उत्पादों उन बाज़ारों में बेच सकते हैं जहाँ इनकी मांग अधिक हो| इसके लिए आप किसी विक्रेता का सहारा ले सकते हैं जो आपके उत्पादों की बिक्री में आपकी मदद करे और आपको बिक्री करने में ज्यादा परेशानी न हो|
  • आप चाहें तो अपने उत्पादों को खुद हीं बाजार में बेच सकते हैं पर शुरुवात में आपको किसी विक्रेता की सहायता लेनी चाहिए क्योंकि आप दूसरे खरीददारों को अच्छे से नहीं जानते होंगे| हो सकता है की जब आप अपने उत्पादों की बिक्री खुद से करने जाएँ तो आपको सही दाम न मिलें या ऐसा मार्किट नहीं मिले जहां आप अपने उत्पादों को बेच सकें| साथ हीं अगर आप किसी विक्रेता की मदद नहीं लेंगे तो आपका खर्च बढ़ जायेगा| आपको सामान के ट्रांसपोर्टेशन का उसे सुरक्षा पूर्वक रखने का इत्यादि सभी का खर्च आपको हीं उठाना होगा| फल सब्जी जैसी चीज़ें जल्दी ख़राब हो जाती हैं इसलिए इन्हें जल्द से जल्द बेच देने में हीं आपकी भलाई होगी क्योंकि आपके पास शुरुवात में इन्हे रखने का सही प्रावधान उपलब्ध न हो| इसलिए बेहतर यही होगा की आप पहले ही इसे विक्रेता को दे दें और अपने व्यवसाय को किसी जोखिम में न डालें|
  • बाद में जब आपने अपने व्यवसाय को अच्छे से बढ़ा लिया हो और व्यवसाय की अच्छी समझ ले ली हो तब आप विक्रेता को अपने और अपने ग्राहकों के बिच से हटा सकते हैं| समय के साथ आपको व्यवसाय की अच्छी समझ हो जाएगी और इसकी प्रविर्ती, ज़रूरतों इत्यादि से अच्छी तरह से वाक़िफ़ हो जायेंगे| साथ हीं आप बढ़ते व्यवसाय के साथ अपने व्यवसाय के लिए ट्रांसपोर्ट और स्टोर करने की जगह बना चुके होंगे|

2) पोल्ट्री फार्म

  • पोल्ट्री फार्म खोलने के लिए आपको अधिक ज़मीन की आवश्यकता नहीं होगी| आप खुद से या किसी और के साथ मिलकर भी अपना यह व्यवसाय आसानी से शुरू कर सकते हैं| आपको छोटे छोटे मुर्गी के बच्चों को कुछ समय तक पालना  होगा और जब वो बेचने लायक हो जाएं तो आप उन्हें बेच सकते हैं|
  • सुरुवाती दौर में आप व्यवसाय को किसी विक्रेता के साथ कॉन्ट्रैक्ट पर शुरू कर सकते हैं| इसमें आपको विक्रेता द्वारा मुर्गी के बच्चे उनका भोजन इत्यादि सब प्रदान किया जायेगा और आपको उन्हें निर्धारित समय तक पालना  होगा| समय अवधि महीनों या वजन के आधार पर तय की जा सकती है| आपको अपना पेमेंट भी उनके वजन या उनकी गिनती के मुताबिक किया जायेगा|
  • शुरू में सबकुछ खुद से न करने का सुझाव सही रहेगा| क्योंकि ऐसा करने में आपको बहुत पूँजी लगनी होगी और हो सकता है की इस वजह से आपको नुकसान का सामना करना पड़े क्योंकि आप व्यवसाय में नए होंगे और इसकी अधिक जानकारी आपके पास नहीं होगी| शुरू में हीं अपने व्यवसाय को जोखिम में डालना सही नहीं होगा इसलिए बेहतर यही होगा की आप कॉन्ट्रैक्ट पर इस व्यवसाय को शुरू करे|

3) मछली पालन

  • पोल्ट्री फार्म के जैसे हीं आप मछली पालन भी कर सकते हैं| आपको इसकी अच्छी समझ होनी चाहिए क्योंकि यह इतना आसान नहीं है|  मछली पालन के लिए आपके पास पर्याप्त जगह होना चाहिए| आपको बड़ी सावधानी बरतनी होगी क्योंकि आपकी एक भूल की वजह से आपको बड़ा नुकसान झेलना पद सकता है|
  • अगर किसी एक मछली को कोई बीमारी होती है या कोई इन्फेक्शन हो जाता है तो वह तालाब की सभी मछलियों में फैल जाता है इसलिए आपको इस व्यवसाय में जरुरत से ज्यादा सावधानी बरतनी होगी|
  • अगर आपकी मछलियों की मात्रा कम है तो आप इसे सीधे बाजार में बेच सकते हैं पर अगर मात्रा बहुत अधिक है तो आप इसे एक्सपोर्ट भी कर सकते हैं| आपको उन मछलियों को पालना  चाहिए जिनकी मांग अधिक होती है और जिनसे आपको अधिक फायदा हो, जैसे रहु, हीलिश, मांगुर, इत्यादि|

4) दूध सेंटर

  • गाँव में गाय और भैंसो का पालन बहुत आम बात है| बहुत सारी डेरी फार्म होती हैं जिन्हें अधिक मात्रा में दूध की आवश्यकता होती है| यह जरुरत वो दूध सेंटर से पूरी करते हैं| सेंटर का मालिक जाओंवालों से दूध लेकर इकट्ठा करता है और डेरी फार्म को देता है|
  • अपना सेंटर खोलने के लिए आपको किसी डेरी फार्म से टाई-उप करना होगा| उनके साथ मिलकर आप अपना सेंटर खोल सकते हैं| 
  • सेंटर खोलने के लिए आपके पास एक अच्छी जगह होनी चाहिए जहाँ आप दूध नापने और तोलने वाली मशीन रख सके और साथ वह मशीन भी जिससे दूध का फैट इत्यादि नपा जाता है|
  • आपका थोड़ा बहुत शिक्षित होना आवश्यक है क्योंकि आपको रजिस्टर बनाना होगा और थोड़ा हिसाब किताब भी करना होगा| अपना एकाउंट्स संभालने के लिए आप बिलिंग सॉफ्टवेयर की भी मदद ले सकते हैं|
  • आपको दूध ले जाने वाले बर्तन की अच्छे से साफ सफाई करनी होगी ताकि दूध डेरी फार्म पहुँचने से पहले फटे न|
  • अपने ग्राहकों के साथ अच्छे रिश्ते बनायें रखें और उन्हें समय पर पैसे दें ताकि सभी आपके सेंटर हीं आएं|

5)फ़र्टिलाइज़र की दुकान

  • क्योंकि खेती गाँव का प्रमुख व्यवसाय है तो ऐसे में फ़र्टिलाइज़र की दुकान खोलना या होलसेल खोला सबसे बेहतरीन विकल्प होगा|
  • आपको इस व्यवसाय के लिए शायद लाइसेंस की भी जरुरत हो| इससे जड़ी और बाकी सभी क़ानूनी जानकारियाँ आपको पता करनी होगी|
  • इस व्यवसाय में नुकसान झेलने के बहुत कम आसार हैं क्योंकि खेती में फ़र्टिलाइज़र अतिआवश्यक होता है और गाँव के अधिकतर लोग खेती करते ही हैं|
  • आप खाद्य के साथ बीज भी रख सकते हैं अपनी दुकान पर|
  • ध्यान रखें की आपके दुकान का अच्छे से प्रचार प्रसार हो क्योंकि इस व्यवसाय में पहले से भी कई और लोग होंगे जो आपके प्रतिद्वेंदी होंगे| कोशिश कर के ग्राहकों का ध्यान अपनी ओर केंद्रित करें|

6) पीने  का पानी सप्लाई करना

  • गाँव में पहले पानी के लिए नदी, नहर, हैंडपंप इत्यादि का इस्तेमाल होता था पर आजकल लगभग सभी लोग गाँव में भी पीने  के लिए पानी का कैन मंगवाने लगे हैं|
  • आप इस व्यवसाय को कम पूँजी में भी शुरू कर सकते हैं| यहां तक की आप इसका स्टोर अपने घर पर हीं खोल सकते हैं|
  • अगर संभव हो तो आप ४ चक्कों वाली एक छोटी गाड़ी ले सकते हैं जैसे टाटा महिंद्रा जिसमे आप पानी की बड़ी टंकी या कैन ले जा सकें|
  • डिलीवरी करने के लिए आप मोटरसाइकल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं| पर अगर आप घर घर जा कर डिलीवरी करने में असमर्थ हों तो लोगों को अपने घर पर या आपके स्टोर पर आकर कैन ले जाने का विकल्प दे सकते हैं|
  • ओर जैसा की आप उसी गाँव के निवासी हैं तो आपको अपने व्यवसाय के प्रचार में अधिक परेशानी नहीं होगी क्योंकि वहां सभी आपको पहले से हीं जानते होंगे|

7) खुदरा दुकान

  • एक खुदरा दुकान खोलने का विकल्प आपके पास हमेशा ही रहेगा| आप चाहें  तो किराना दुकान खोल सकते हैं, या कपड़े की दुकान, हार्डवेयर की दुकान, इत्यादि|
  • आप एक सलून भी खोल सकते हैं|
  • टेलरिंग की दुकान खोलना भी एक विकल्प है|
  • दूसरे और कई विकल्प हैं आपके पास हैं जो काफी आम हैं जैसे मिठाई की दुकान, फल और सब्जियों की दुकान, इत्यादि|

8)आटा चक्की

  • शहरों में लोग पिसा हुआ आटा खरीदते हैं पर गाँव में लोग आटा चक्की पर गेहूं पीसकर आटा लाते हैं क्योंकि ज़्यादातर लोग गेहूं की खेती करते हैं|
  • अगर आप चक्की खोलते हैं तो वहां गेहूं हीं नहीं बल्कि हल्दी, मिर्ची, मक्का, धनिया इत्यादि पीसने की भी मशीन रखें|
  • आप छुड़ा कूटने की भी मशीन रख सकते हैं| ध्यान रखें की आपके चक्की पर बिजली बराबर रहती हो| 
  • ग्रामीण क्षेत्रों में लोग ज़्यादातर ये सारी चीज़ें दुकान या बाजार से नहीं खरीदते हैं क्योंकि इंसबकी खेती होती हैं उनके यहाँ|
  • अगर आप सभी चीज़ों की सुविधा एक हीं जगह प्रदान करें तो आपके लिए बहुत फ़ायदेमंद होगा|

9)थ्रेशिंग मशीन

  • अगर आपके पास पर्याप्त पूँजी हैं तो उसे एक ट्रेक्टर खरीदने में लगा सकते हैं| ट्रेक्टर के साथ आप थ्रेशिंग मशीन, बीज बोने वाली मशीन इत्यादि ख़रीद सकते हैं| यह सब गाँव में सभी लोग अपने पास नहीं रखते हैं बल्कि भाड़े पर लेते हैं|
  • यह काफी फ़ायदेमंद होगा क्योंकि कृषि में इसकी आवश्यकता हमेशा हीं होती हैं फिर चाहे वो जोताई हो, बुनाई हो या कटाई|
  • इन सबके साथ साथ आप चाहें तो पम्पिंग सेट भी रख सकते हैं| इससे आपके पास सभी सुविधाएँ होंगी और सभी आपके पास आना चाहेंगे क्योंकि आपके पास सभी सुविधाएँ उपलब्ध होगी|

10) तेल मिल

  • ज्यादा तेल मिल न होने के कारण लोगों को काफी दूर जाना होता हैं तेल रिफाइन कराने या फिर उन्हें कम दाम में हीं अपने उत्पाद को बेचना पड़ता हैं|
  • अगर आपके पास पर्याप्त पूँजी हो तो आप एक तेल मिल खोल सकते हैं|
  • गाँव में लोग सरसों, सोयाबीन, मूंगफली इत्यादि सभी अपने खेत में उपजाते  हैं और इसी वजह से वो अपने इस्तेमाल के लिए तेल मिल से हीं रिफाइन करा कर आते हैं|
  • हो सकता हैं लोग अधिक मात्रा में तेल रेफिने न करायें यह सिर्फ उनके घरेलू इस्तेमाल के लिए होता हैं| साथ हीं तेल रिफाइन कराने के बाद जो सामान बच जाता है उसे लोग गाय के चारे के रूप में इस्तेमाल कर लेते हैं|
  • जैसा की यह सभी घरवालों के द्वारा किया जाता है तो आपको ग्राहकों की कमी कभी नहीं होगी|

गाँव में शुरू करने के लिए ये कुछ और बेहतरीन व्यवसाय हैं। आपके पास पूंजी की मात्रा के आधार पर आप अपने व्यवसाय के बारे में निर्णय ले सकते हैं। कोई भी व्यवसाय शुरू करने से पहले अपने प्रतिस्पर्धियों और बाजार को जरूर देखें।

11) फूलों की खेती

  • फूलों की खेती को फ्लोरीकल्चर के रूप में भी जाना जाता है। भारत में, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, मिजोरम, गुजरात, उड़ीसा, हरियाणा, झारखंड, असम, छत्तीसगढ़, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे कई राज्यों में व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए फूलों की खेती की जाती है।
  • भारतीय फूलों की खेती के उद्योग में गुलाब, कंद, ग्लेडियोलस, एन्थ्यूरियम, कार्नेशन्स, गेंदा, चमेली, हिबिस्कस आदि जैसे फूल शामिल हैं, जो भारत में खेतों, पॉली हाउस और ग्रीनहाउस में उगाए जाते हैं। कटे हुए फूलों को सूखे फूलों में निर्यात किया जाता है।
  • भारत के भीतर, धार्मिक उद्देश्यों के लिए ताजे फूलों की भारी मांग है। इन्हें मंदिरों में चढ़ाया जाता है और घरों में भी इस्तेमाल किया जाता है।
  • जबकि श्रम शामिल है, फूल पूरे वर्ष बढ़ सकते हैं, खासकर अगर बीज आसानी से उपलब्ध हों और ग्रीनहाउस सुविधाओं का उपयोग किया जाता है, जिससे व्यापार लाभ गैर-मौसमी रहता है।
  • यह एक बहुत ही लाभदायक व्यवसाय होगा क्योंकि भारत में, फूलों को एक से अधिक तरीकों से अत्यंत महत्वपूर्ण माना जाता है जिसकी कोई कल्पना नहीं कर सकता है। उदाहरण के लिए, वे केवल सजावटी सजावट नहीं हैं, बल्कि धार्मिक त्योहारों, समारोहों, शादियों, मंदिरों में भगवान को चढ़ाने आदि के लिए उपयोग किए जाते हैं।
  • बहुत से लोग दैनिक आवश्यकता और खपत के कारण अपने घर के बगीचों में फूल उगाते हैं। इसलिए मांग गंभीर है और यहां फूलों की पूजा की जाती है।

12) स्वतंत्र लेखक

  • चूंकि छोटे शहर अक्सर रहने की कम लागत की पेशकश करते हैं, वे स्वतंत्र फ्रीलांसरों के लिए महान स्थान हो सकते हैं।
  • चाहे स्थानीय ग्राहकों के लिए लिखना हो या अपना व्यवसाय ऑनलाइन करना हो – दुकान स्थापित करने के लिए। तो आप अपना खुद का स्वतंत्र लेखन व्यवसाय शुरू कर सकते हैं और विभिन्न खर्चों पर पैसे बचा सकते हैं।
  • आज भी पारंपरिक प्रकाशनों में कुछ स्वतंत्र लेखन के अवसर हैं, लेकिन सामग्री विपणन में बड़ा अवसर ऑनलाइन है।
  • व्यवसाय और उपभोक्ता-उन्मुख वेबसाइटें अपने व्यावसायिक स्थान से संबंधित अधिक से अधिक सामग्री पोस्ट करने, खोज इंजन से ट्रैफ़िक आकर्षित करने और संभावित ग्राहकों के दिमाग में खुद को स्थापित करने की कोशिश कर रही हैं।

13) स्वतंत्र ब्लॉगर

  • ब्लॉगिंग किसी भी व्यवसाय को ऑनलाइन बढ़ावा देने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है।
  • स्वतंत्र ब्लॉगर अपने द्वारा दी जा रही सेवाओं से हजारों रुपये मासिक कमाते हैं। आधुनिक लोगों के लिए, यह सबसे अच्छे छोटे शहर के छोटे व्यवसाय विचारों में से एक है।
  • या आप अपना खुद का ब्लॉग शुरू कर सकते हैं और विज्ञापनों, संबद्ध लिंक्स, या बिक्री उत्पादों से पैसा कमा सकते हैं जो निम्न-मानक जीवन स्तर और सेवाओं का लाभ उठाते हैं – इसलिए जब तक आपके पास पर्याप्त इंटरनेट पहुंच न हो।
  • एक ब्लॉगर अपनी खुद की वेबसाइट बनाकर और फिर विज्ञापनों, एफिलिएट मार्केटिंग और उत्पादों को ऑनलाइन बेचकर पैसा कमा सकता है। लेकिन यह शुरुआती हिस्सा है।

एक बार जब आप ब्लॉग्गिंग में आ जाते हैं तो आपके पास करने के लिए बहुत कुछ होता है। आप निम्न में से कोई भी कार्य कर सकते हैं:

  • दूसरों के लिए विज्ञापन
  • ईमेल मार्केटिंग शुरू करें
  • उत्पाद समीक्षा लिखें
  • सोशल मीडिया ब्लॉगिंग
  • एक व्यापार ब्लॉग लिखें
  • DIY और रेसिपी ब्लॉगिंग

14) वाहन मरम्मत की दुकान

  • यदि आप पहले से ही ऑटो रिपेयर में माहिर हैं, तो आप शहर में एक दुकान खोल सकते हैं।
  • विशेष रूप से यदि आप एक ग्रामीण क्षेत्र में सेवा कर रहे हैं जहां आप मीलों के लिए एकमात्र दुकान हैं, तो आप अन्य शहरों से भी व्यापार आकर्षित कर सकते हैं।
  • उन उद्यमियों के लिए जो मोटर वाहन मरम्मत में कुशल हैं, छोटे शहर दुकान स्थापित करने के लिए महान स्थान हो सकते हैं, खासकर अगर आसपास कोई अन्य मरम्मत नहीं है।
  • जबकि दूरी एक लाभ हो सकता है, यह भागों को जहाज करने या एक विशेष सेवा प्रदान करने की कोशिश करते समय व्यवसाय को भी नुकसान पहुंचा सकता है, इसलिए जब आप अपना शोध करते हैं या अपनी दुकान को उस क्षेत्र के पास स्थिर करने का प्रयास करते हैं जहां से उपभोक्ता और यात्री गुजरते हैं, तो इसे ध्यान में रखें।
  • यातायात के उच्च स्तर और स्थानीय राजमार्गों पर समान रूप से उच्च स्तर के पर्यटक यातायात के बीच, ऑटो मरम्मत सेवाओं और ऑटो भागों की लगातार महत्वपूर्ण मांग है।
  • अधिकांश मध्यम और उच्च वर्ग के उपभोक्ताओं और यात्रियों के लिए सुविधा आवश्यक है।

15) ट्यूशन सेवा

  • जहां घर होंगे वहां बच्चे होंगे और जहां बच्चे होंगे वहां गणित और व्याकरण पर आंसू होंगे। हालाँकि, इंटरनेट ऑनलाइन ट्यूशन सेवाओं के साथ समाप्त हो गया है, लेकिन ट्यूटरिंग सेवाएं ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे अच्छे लघु व्यवसाय विचारों में से एक हैं जो काम करती हैं।
  • कई छात्रों को गणित और व्याकरण समझने में समस्या हो होती है। आप अपनी खुद की ट्यूटरिंग सर्विस शुरू करके अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं।
  • अधिकांश छोटे शहरों के व्यावसायिक विचारों के लिए एक टीम की आवश्यकता होती है। ट्यूशन सेवाओं की भी यही स्थिति है। आपको एक टीम बनाने की जरूरत है। कुछ शिक्षकों को काम पर रखें लेकिन पेशेवर ट्यूटर्स को नियुक्त करना सुनिश्चित करें। ऐसे ट्यूटर को हायर न करें जो सभी विषयों का जैक बनने की कोशिश करता हो। जो किसी विषय में विशिष्ट हो और कम खर्चीला हो।
  • हमेशा ध्यान रखें कि सभी छात्र सीखने के लिए उत्सुक या उत्साहित नहीं होते हैं। कुछ छात्र आपके धैर्य की कोशिश कर सकते हैं। इसे बर्दाश्त करने से पहले आपको अपना मन बना लेना चाहिए लेकिन सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे किसी और काम के साथ पार्ट-टाइम कर सकते हैं। यहां चरण-दर-चरण मार्गदर्शिका दी गई है:
  • अपनी सेवाओं के लिए एक कार्यालय बनाएँ।
  • उन विषयों का निर्धारण करें जिन्हें आप पढ़ा सकते हैं।
  • अन्य विषयों के लिए ट्यूटर किराय
  • छात्रों की सूची बनाएं।
  • सभी आवश्यक परमिट प्राप्त करें।
  • एक व्यवसाय योजना बनाएं।
  • अपनी सेवाओं का विज्ञापन करें।

व्यापार सुझाव: आप मोबाइल और डेस्कटॉप पर व्यापार ऐप जैसे बहुत ही आसान बिलिंग और अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं। यह सॉफ़्टवेयर आपको अपने व्यवसाय की सभी लेखांकन गतिविधियों जैसे बिक्री, खरीद, भुगतान अनुस्मारक भेजने, यूपीआई के माध्यम से तत्काल भुगतान प्राप्त करने, पेशेवर चालान बनाने और भेजने, ग्राहकों के साथ व्हाट्सएप अभिवादन साझा करने और सभी प्रकार की रिपोर्ट आदि को बिना किसी त्रुटि के प्रबंधित करने में मदद करता है। आपका समय बचाता है। ताकि आप अपना पूरा ध्यान बिना किसी झंझट के अपने व्यापार को आगे बढ़ाने में लगा सकें। साथ ही, इस सॉफ्टवेयर की मदद से आप अपनी सभी व्यावसायिक गतिविधियों को कभी भी, कहीं से भी आसानी से प्रबंधित और ट्रैक कर सकते हैं। और डिजिटल दुनिया में एक कदम उठाकर आप अपने व्यवसाय की लेखांकन गतिविधियों को और भी सरल और जोखिम मुक्त बना सकते हैं।

सामान्यतःपूछे जाने वाले प्रश्न:

# भारत के छोटे शहरों में कौन सा व्यवसाय सबसे अच्छा है?

जबकि हर छोटे व्यवसाय का विचार सभी शहरों के लिए सही नहीं है, कुछ प्रकार के व्यवसाय छोटे शहरों में या सभी आकारों के स्थानों में मांग के अनुसार अच्छा करते हैं। यदि आपके पास उद्यमशीलता की भावना है, लेकिन यह सुनिश्चित करने के लिए कि यह कितना अच्छा है, तो एक छोटा व्यवसाय शुरू करने के लिए इन विचारों पर विचार करें।

  • कॉफी शोपे
  • खाने का ट्रक
  • ट्यूशन
  • किराने की दुकान
  • वाहन मरम्मत की दुकान
  • खुदरा दुकानें

# एक छोटे से निवेश के साथ कौन सा व्यवसाय ग्राम क्षेत्र के लिए सबसे अच्छा है?

छोटे निवेश के साथ गाँव के क्षेत्र के लिए ये कुछ व्यवसाय सर्वोत्तम हैं:

  • अगरबत्ती बनाना
  • पेपर कप बनाना
  • बेकरी
  • केला वेफर बनाना
  • पिलो कोव के साथ बेडशीट
  • बायोडीजल उत्पादन
  • स्टोर
  • नारियल आधारित व्यवसाय
  • अदरक लहसुन का पेस्ट बनाना
  • हेयर बैंड बनाना
  • पापड़ बनाना
  • पेपर बैग बनाना।

# सबसे सफल छोटे व्यवसाय कौन से हैं?

कुछ व्यवसाय स्वाभाविक रूप से दूसरों की तुलना में अधिक लाभदायक होते हैं। यह कम खर्च और ओवरहेड्स या व्यवसाय अपनी सेवाओं या उत्पादों के लिए बहुत अधिक शुल्क लेने के कारण हो सकता है। फिर भी, सभी व्यवसाय, चाहे वे कितने भी लाभदायक हों, एक चुनौती बन सकते हैं। यदि आप सबसे सफल और लाभदायक व्यवसाय चलाने की इच्छा रखते हैं, तो निम्नलिखित 10 सबसे अधिक लाभदायक छोटे व्यवसाय जैसे;

  • खानपान सेवाएं
  • वेबसाइट डिज़ाइन
  • कूरियर सेवाएं
  • मोबाइल की दुकान
  • नाई सेवाएं
  • सफाई सेवा
  • ऑनलाइन ट्यूशन
  • आईटी सहायता
  • मार्केटिंग सेवाएं
  • कानूनी सेवाओं
  • बागवानी, आदि

# मै 20k से कौन सा व्यवसाय शुरू कर सकता हूं?

व्यवसाय शुरू करना विचारों के बारे में नहीं है। यह विचारों को साकार करने के बारे में है, लेकिन महत्वाकांक्षी संस्थापक अक्सर खुद को संघर्षों और विचारों से जूझते हुए पाते हैं – इससे पहले कि वे हलचल में शामिल हों। इसके लिए अत्यधिक दृढ़ संकल्प और आत्मविश्वास की आवश्यकता होती है, लेकिन उद्यमिता के क्षेत्र में कदम रखने से पहले आपको अपने व्यावसायिक विचार के बारे में बहुत स्पष्ट होना चाहिए। ऊधम को आसान बनाने के लिए, लाभदायक निर्माण व्यवसाय के विचारों की एक सूची तैयार की गई है जिसे आप कम निवेश के साथ शुरू कर सकते हैं।

  • हस्तनिर्मित मोमबत्तियाँ
  • अचार
  • अगरबत्ती (अगरबत्ती)
  • बटन
  • डिजाइनर फीता
  • हस्तनिर्मित चॉकलेट
  • कपास की कलियां
  • पापड़
  • डिस्पोजेबल प्लेट और कप
  • जूट बैग
  • पेपर बैग, आदि।

# लॉकडाउन के बाद कौन सा व्यवसाय सबसे अच्छा है?

COVID 19 ने बड़े पैमाने पर आर्थिक मंदी के कारण व्यवसायों और लोगों को अपनी नौकरी गंवाने का भारी नुकसान हुआ है। हम कुछ भी किए बिना इंतजार नहीं कर सकते। इसलिए, हमें उन व्यवसायों के बारे में अधिक जागरूक, निर्णायक, सक्रिय और विचारशील बनना होगा जो स्नातक, कामकाजी वर्ग या सेवानिवृत्ति के बाद के छात्रों के लिए लॉकडाउन के दौरान घर पर शुरू हो सकते हैं। लॉकडाउन के बाद शुरू किए जाने वाले कुछ सबसे छोटे बिजनेस आइडिया का विवरण नीचे दिया गया है:

  • हेल्थकेयर उत्पाद बेचना
  • डोरस्टेप डिलीवरी बिजनेस
  • भोजन वितरण या टिफिन सेवा
  • ऑनलाइन ट्यूशन कक्षाएं
  • एक यूट्यूबर बनना

# 5000 रुपए से कौन सा बिजनेस शुरू कर सकता हूं?

छोटे निवेश के बिजनेस आइडिया- आज आपको बड़ी संख्या में युवा और गतिशील लोग मिलेंगे जो छोटे बिजनेस आइडिया की तलाश में हैं। वे अपनी 9 से 5 की नौकरी छोड़कर अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं। हालांकि, उनके पास बिजनेस आइडिया और पैसा खत्म हो रहा है। उनकी मदद करने के लिए, हम यहां 5000 रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक के छोटे बिजनेस आइडिया लेकर आए हैं। ये भारत में 5000 रुपये के छोटे निवेश के साथ छोटे व्यवसायों के लिए कुछ विचार हैं।

  • मोबाइल रिचार्ज और सिम कार्ड बेचना
  • टूशन 
  • सब्जी या किराने की दुकान
  • नाश्ते की दुकान, आदि।

Stay updated about the Latest News on Vyaparapp

Download the BEST GST Compliant Mobile Billing App

Happy Vyaparing!!!

Leave a Reply