Home » Business Tips » ३ टेक्नोलॉजीज जो हर छोटे व्यवसाय को तेजी से बढ़ने के लिए उपयोग करना चाहिए

३ टेक्नोलॉजीज जो हर छोटे व्यवसाय को तेजी से बढ़ने के लिए उपयोग करना चाहिए

  • by

जैसा कि कहा जाता है “एक बड़ा व्यवसाय छोटे से शुरू होता है”।  एक स्मार्ट व्यवसायी वह है जो यह सब करता है लेकिन एक कुशल तरीके से। वह समय-समय पर अपने व्यवसाय को बेहतर करने के लिए सभी प्रकार के नवीनता और टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है। कड़ी मेहनत का  कोई आसान रास्ता नहीं है।  जहां तक ​​आप पहुंचना चाहते हैं, वहां तक ​​पहुंचने के लिए यह कड़ी मेहनत करनी ही होगी । लेकिन अगर आप कुछ बड़े टेक्नोलॉजीज का उपयोग करते हैं तो यह आपको अपने लक्ष्यों तक तेजी से पहुंचने में मदद करेगा। सही तरीके से टेक्नोलॉजी का उपयोग करने से आपको सफलता और मुनाफे की उच्च दर प्राप्त करने में मदद मिलती है।

अपने व्यवसाय को सुचारू रूप से चलाने के लिए आप इन चीज़ों में टेक्नोलॉजी की मदद ले सकते हैं :

  1. भुगतान या पेमेंट : अभी भारत में २० % से अधिक जनसंख्या भुगतान के पूर्ण डिजिटल मोड का उपयोग करती है। यह अनुमान है की वर्ष २०२३ तक इसमें करीब ६० करोड़ जनसंख्या की वृद्धि होगी। डिजिटल भुगतान के कई लाभ हैं, अधिकांश प्लेटफ़ॉर्म भुगतान करते समय ऑफ़र देते हैं जो ग्राहकों और दुकान मालिकों दोनों के लिए फायदेमंद है। भुगतान बहुत सुविधाजनक हो जाता है और बस एक क्लिक में किया जा सकता है। ये लेन-देन १०० % सुरक्षित हैं। जब ऑनलाइन भुगतान किया जाता है तो खातों का प्रबंधन करना आसान होता है। भुगतान पोर्टल के कुछ उदाहरण हैं – भीम यूपीआई , पेटीएम, फोन-पे, गूगल-पे इत्यादि
  2. होम डिलीवरी सेवा :  वर्तमान में लॉकडाउन के कारण खरीदारी के सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक है ऑनलाइन शॉपिंग, जिसमे होम डिलीवरी की सुविधा मिलती है। इन सेवाओं को कई कंपनियों द्वारा प्रदान किया जाता है जैसे कि ज़ोमेटो, स्विगी, डंज़ो इत्यादि।  इससे बिक्री दोगुनी हो जाएगी क्योंकि उत्पादों को ग्राहक के दरवाजे पर पहुंचाया जाएगा। कंपनियों द्वारा इस तरह की सेवाएं लगभग शून्य लागत पर दी जाती हैं, इसलिए आपकी जेब से कोई पैसा नहीं निकलेगा। अगर आपके पास होम डिलीवरी के लिए स्टाफ है और ऑनलाइन शॉप नहीं है तो व्यापार ऍप के द्वारा आप जल्दी से अपना ऑनलाइन शॉप खोल सकते हैं।  आपके पास जो भी आइटम या प्रोडक्ट हैं, आप आसानी से इन्हे शॉप में जोड़ सकते हैं और आपके रेगुलर कस्टमर्स को व्हाट्सएप्प के द्वारा शेयर कर सकते हैं।  कस्टमर घर बैठे बैठे आपको आर्डर दे सकते हैं और आप उनका सामान घर पहुंचवा सकते हैं।  यहीं नहीं, व्यापार ऍप आपको बिल बनाने की सुविधा भी देता है।  आप कस्टमर को व्हाट्सएप्प के द्वारा बिल भेज सकते हैं और बिल में अपना यूपीआई कोड भी ऐड कर सकते हैं जिससे कस्टमर आपको ऑनलाइन पेमेंट कर सके।
  3. बिलिंग, स्टॉक प्रबंधन और लेखांकन : मैन्युअल रूप से बिल लिखने पर निश्चित रूप से ग्राहकों की कतार के आधार पर बहुत अधिक समय लग सकता है।  इसके परिणामस्वरूप ग्राहकों की तादाद और कभी-कभी बिलिंग के लिए लंबी कतार के कारण कुछ ग्राहकों को खोने का डर रहता है।  हाथ से लिखे बिलों को अक्सर पढ़ने में मुश्किल होती है। कागज पर इसे प्रबंधित करने का एक और नुकसान यह है कि आपको इसे स्टॉक रजिस्टर में भी दाखिल करना होता है जो और भी अधिक समय लेने वाला काम है।  मैन्युअल काम से कभी कभी गलती से कुछ ट्रांसक्शन छूट सकते हैं जिससे हिसाब नहीं मिल पाता।  व्यापार ऐप जैसे लेखांकन सॉफ्टवेयर का उपयोग करने से आपको बिलिंग, लेखांकन और स्टॉक प्रबंधन के बोझ को कम करने में मदद मिलेगी क्योंकि काफी सारी गणना स्वचालित होंगी।

You may want to read these:
Now Be More Professional By Sharing Your Business Card From Vyapar
How to Apply for GST Registration Online in India?

Legal Requirements for Business Registration in India
9 Types of Small Business Insurance and What it Covers


Stay updated about the Latest GST News on Vyaparapp.in.

Download the BEST Free Billing Software

Happy Vyaparing!!!

Leave a Reply