10 कॉस्ट काम करने के टिप्स: अपने व्यवसाय को अब कम रुपयों में भी चलाएँ

कम पैसों में अपने व्यवसाय को चलाने में परेशानी हो रही है? यह सिर्फ आपकी दिक्कत नहीं है भारत के लाखों व्यापारियों की यही समस्या है| जहाँ कई व्यापारी पैसों की ऐसी दिक्कत होने के बाद भी अपना व्यवसाय सफलतापूर्वक चला रहे हैं वहीँ कई व्यापारी इस परेशानी का समाधान निकलने में असमर्थ रहे हैं|


यहाँ 10 ऐसे उपाय दिए गए हैं जिनके इस्तेमाल से आप अपना खर्च बचा सकते हैं

 

1)मार्केटिंग के पुराने तरीकों को छोड़े और होशियारी से प्रचार करें

पुराने प्रचार के तरीके जैसे घर घर जा कर बिक्री करना, टीवी या रेडिओ पे प्रचार करना, इत्यादि सब बहुत हीं महंगे हैं| अधिकांश छोटे व्यवसाय इस तरह का खर्च  नहीं उठा सकते.

सोशल मीडिया और विज्ञापन का धन्यवाद जिस से बिना ज्यादा खर्च के ग्राहकों तक पहुंचाना संभव है।

  • अपने उत्पाद का विज्ञापन देने के लिए Google AdWords, फेसबुक, इंस्टाग्राम का उपयोग करें
  • आप हज़ारों  ग्राहकों तक पहुँच सकते है वो भी 100% मुफ़्त में।

 

2) कागज़ रहित डिजिटल विकल्प का उपयोग करें 

अपने व्यापार को सुचारु रूप से चलाने के लिए आप एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते है 

इस से बहुत समय और ऊर्जा की बचत होती है ऐसा करने से पेपर वर्क और प्रिंटिंग की बचत होगी और यह काफी सुविधा जनक है।

 

3) समय हीं असली धन है! इसका पूरा और सही उपयोग करें

अगर आप एक छोटे व्यापारी हैं तो आपको समय की महत्ता का एहसास ज़रूर होगा| महत्वपूर्ण कामों पर अधिक समय व्यस्त करें और अपने बाकी बचे समय का सही उपयोग करें|

अपने बचे हुए समय को उन कामों के लिए इस्तेमाल करें जिनको आपकी निगरानी की आवश्यकता है| अगर आपका व्यवसाय धीमे चल रहा है तो आप अपना अधिकतर समय अपने व्यवसाय का प्रचार करने में लगाएँ| अगर आपके स्टोर में रखी सामान की बिक्री काम हो रही है या नहीं हो रही है तो ऐसी वस्तुओं पर खर्च करें जिनकी बिक्री आपके दुकान पर अधिक होने की संभावना  है| अपने व्यवसाय को सही से चलाने के लिए समय का सही उपयोग होना बहुत आवश्यक है|

अपना महत्वपूर्ण समय उन कामों को करने में बरबाद न करें जो किसी और के द्वारा या बिज़नेस सॉफ्टवेयर की मदद से आसानी से हो सकता है|

 

4 ) अपने बिज़नेस एकाउंटिंग के लिए मुफ्त सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें

अपने महंगे सॉफ्टवेयर को मुफ्त सॉफ्टवेयर से बदले| अगर आप Tally का इस्तेमाल कर रहे हैं तो उसे Vyapar  App से बदल दें| इसमें आप वही सरे काम बेहतर तरीके से कर सकते हैं वो भी बिलकुल मुफ्त| इसकी मदद से आप GST बिल्स जेनरेट कर सकते हैं, और इससे मिला GST रिपोर्ट आपको अपने पेमेंट को ट्रैक करने में मदद करेगा| समय ख़तम होने पर आप Whatsapp या SMS पर पेमेंट रिमाइंडर भी भेज सकते हैं|

 

5 ) अपने सप्लायर से छूट माँगें और मोल भाव करें

हर किसी चीज़ का मोल भाव नहीं किया जा सकता है पर ऐसी कई सारी चीज़े हैं जिसमे आप दाम मोल कर सकते हैं|

इसमें कोई शक नहीं की जब आपके सप्लायर की बारी आती है तो आपको सभी चीज़ों पर दाम मोल करने का हक़ है|  उन को अपने बजट, उतपाद, सेवाएं और पेमेंट शैडूल के बारे में जानकारी दें.

अपने प्रयास से आप कुछ खोएंगे नहीं बल्कि अपनी लागत को काम कर कई सौ रुपये बचा सकते है

 कई व्यापारी आप जैसे ग्राहकों को खोने के बजाय दाम मोल करना पसंद करेंगे|

छूट के लिए पूछें कभी कभी जब आप नकद या एक एक निश्चित समय अवधि के भीतर भुगतान करते है तो आप को छूट मिलती है।

 

6) अपनी इन्वेंटरी को बारीकी से ट्रैक करें 

आप किसी ऐसी चीज़ का प्रबंधन नहीं कर सकते, जिसे आप ट्रैक नहीं करते है। यदि आप अपनी सभी इन्वेंटरी का रिकॉर्ड नहीं रखते तो इसे अभी से शुरू करें ।

यह सुनिश्चित करने के लिए की आप वास्तव में आवश्यक से अधिक खर्च नहीं कर रहे है, अधिक बारीकी से इन्वेंटरी की निगरानी शुरू कर दें। धीमी गति से बिकने वाली वस्तुओ के बजाय उच्च लाभ वाले उत्पादों का पता लगाए और तेज गति से बिकने वाली वस्तुओ पैर निवेश करें।

अगर आप अब भी मैन्युअली मैनेज कर रहे है तो बेहतर ट्रैक रखने के लिए इन्वेंटरी मैनेजमेंट सॉफ्टवेयर का उपयोग करें यह आसान और तेज है ।

 

7) ऑनलाइन भी बेचना शुरू करें 

अपनी व्यावसायिक लागत कम करने के हर अवसर का पता लगाएँ। अब तक आप शायद जानते हो की ऑनलाइन बेचना आपके स्टोर से बेचने से जायद आसान है। आप आपने सामान की बिक्री इ कॉमर्स मार्किट प्लेस जैसे Amazon, Flipkart, snapdeal, ebay पर कर सकते हैं|

इन्होंने पहले ही काफी निवेश किया है मार्केटिंग और इन्वेंटरी मैंटेनस पे. आप इसका इस्तेमाल आसानी से कर सकते है। आप इसको कही से भी कभी भी जहां चाहे वहां से ऑपरेट कर सकते है। चाहे आपका बजट कितना भी छोटा क्यों न हो।

 

8) मतलब की चीज़ें थोक में ख़रीदे

खुदरा खरीदने क बजाये थोक में खरीदना सस्ता पड़ता  है, यह एक बुद्धिमान विचार है लेकिन थोक में खरीदने से पहले एक एक सीधा सवाल पूछें की इतना थोक में खरीदना मायने रखता है या नहीं अगर इस से आप का मतलब साफ़ होता हो तो ज़रूर खरीदें।

 

9) सेकंड हैंड चीज़ों का इस्तेमाल कार्यालय में 

चाहे वो आपका प्रिंटर हो या लैपटॉप, पंखा या फर्नीचर, सेकंड हैंड की तलाश करें। यहाँ आप आसानी से अपनी लागत में कटौती कर सकते है कभी कभी ये सेकंड हैंड आइटम नए रूप में अच्छे होते है। आप को केवल OLX, या Quikr जैसे साइट से अपनी आवश्यकतों की खोज करनी है आप विक्रेता से सीधे बात कर सकते है और एक अच्छा सौदा प्राप्त कर सकते है।

 

10) खाली जगह किराये पे दें 

अगर आप के स्टोर में या स्टोर के पास जगह खाली हो तो उस को किराये या उप किराये पर दे कर अतिरिक्त राशि कमा सकते है।

 

आप अपने व्यवसाय में खर्च कैसे कम करते हैं? नीचे सुझाव दें 

Stay updated about the Latest Business Tips on Vyaparapp.in.

Download the BEST Free Billing Software

Happy Vyaparing!!!

You May Also Like

Leave a Reply