6 आसान स्टेप GSTR-9 ऑनलाइन फाइल करने के लिए

अगर आप एक ऐसे करदाता हैं जो GSTR1, GSTR 2, GSTR 3 नियमित तौर पर फाइल करते हैं तो आपको वित्त वर्ष 2017-18 के लिए December 31, 2019 tak GSTR-9 file करना अनिवार्य है|

आप  शायद  यह भी  पढ़ना चाहेंगे: 

GSTR 1 क्या  है? किसे फाइल  करना चाहिए, कैसे  फाइल करते है, ड्यू डेट  और लेट फाइल करने की फ़ीस 

E-way बिल  क्या है? इसे  कब और किसे जेनेरेट  करना चाहिए?

 

यह  रहे 6 आसान  स्टेप GSTR-9 ऑनलाइन  फाइल करने के लिए:

स्टेप  1: GST पोर्टल  पर लॉगिन करें  -> रिटर्न्स डैशबोर्ड  -> एनुअल रिटर्न 

GST Billing app Vyapar

‘फाइल  एनुअल रिटर्न’ पेज  में ‘फ़ाइनेंशियल ईयर’ (वित्त  वर्ष) चुनें| एक मैसेज आएगा जिसमे  ऑनलाइन/ऑफ-लाइन GSTR-9 फाइल करने के  स्टेप दिए होंगे| ‘प्रिपेयर ऑनलाइन’ पर  क्लिक करें|

Billing app by Vyapar

Invoicing app by Vyapar

Invoicing app by Vyapar App

स्टेप  2: अगर आप  वित्त वर्ष के  लिए निल रिटर्न फाइल  करना चाहते हैं तो ‘Yes’ पर  क्लिक करें नहीं तो ‘No’ पर क्लिक  करें|

आपको  निम्नलिखित  परिस्थितियों  में निल रिटर्न  फाइल करना होगा 

कोई  भी आउटवर्ड  सप्लाई (सेल्स) नहीं 

गुड्स/सर्विसेज  का कोई रिसीप्ट  नहीं 

रिपोर्ट  करने के लिए  कोई और लायबिलिटी  नहीं 

कोई  क्रेडिट  क्लेम नहीं  किया गया 

कोई  रिफंड  क्लेम नहीं  किया गया 

कोई  डिमांड  आर्डर नहीं  मिला 

लेट  फ़ीस भरने  की आवश्यकता  नहीं 

Billing app by Vyapar App

  • अगर  आप ‘Yes’ चुनते  हैं निल रिटर्न फाइल  करने के लिए तो फिर ‘Next’ पर  क्लिक करे लिएबिलिटीज़ को कंप्यूट  करने के लिए और निल GSTR-9 फाइल करने  के लिए|
  • अगर  आप ‘No’ चुनते  हैं निल रिटर्न  के लिए तो ‘Next’ पर  क्लिक करें, ‘GSTR-9 एनुअल  रिटर्न आम करदाताओं के लिए’ पेज  आपके सामने आएगा| इसमें आपको कई साड़ी  जानकारी भरनी होगी|

Billing app by Vyapar software

सभी  डाउनलोड  करें:

GSTR- 9 सिस्टम  कंप्यूटेड समरी 

GSTR-1 समरी  (संक्षिप्त)

GSTR-3B समरी 

इसमें  आपको वह  सारी जानकारी  मिल जाएगी जो आपको  GSTR-9 फाइल करने के लिए  चाहिए होगी|

स्टेप  3: वित्त  वर्ष के लिए  ज़रूरी जानकारियाँ  भरे 

टाइटिल: एडवांसेज  की जानकारी, वित्त  वर्ष में की गयी इनवर्ड  और आउटवर्ड सप्लाइज जिसपर टैक्स  देना है – टेबल 4N

1.टाइटिल  पर क्लिक  करें| GSTR-1 और  GSTR-3B में दी गयी  जानकारी के आधार पर जानकारियाँ  अपने आप हीं भर दी जाएगी|

Billing app by Vyapar India

Bill app by Vyapar

Invoice app by Vyapar

2.टैक्स  वैल्यूज  को ऐड/एडिट  करें| अगर पहले  से भरी जानकारी  में +/- 20% का फर्क  है तो उसे दर्शाया जायेगा  और एक कन्फर्मेशन का मैसेज मिलेगा|

Bill bano Vyapar se

3.जानकारियों  को अपनाने के  लिए ‘Yes’ पर क्लिक  करें|

4.बदलाव  को सफलतापूर्वक  सेव करने का एक  कन्फर्मेशन मैसेज मिलेगा|

5.GSTR-9 डैशबोर्ड  पर वापस जाएँ| 4N वाला  टाइल अपडेटेड मिलेगा|

अब  नीचे  दिए गए  टेबल को इसी  स्टेप की मदद द्वारा  भरे और बदलाव को सेव करें:

सेल्स  की जानकारी (आउटवर्ड  सप्लाइज) जिसपर टैक्स नहीं  देना है – टेबल (5M)

ली  गयी ITC की  जानकारी – टेबल  6 (O)

रिवर्स  की गयी ITC और  उन ITC की जानकारी  जो योग्य नहीं हैं – टेबल  7(I)

ITC से  जुडी दूसरी  जानकारियाँ – टेबल  8(A)

फाइल  की गयी  रिटर्न में  घोषित और दिए  गए टैक्स की जानकारी – टेबल  9

पिछले  फ़ाइनेंशियल  ईयर के ट्रांज़ैक्शन  की जानकारी जो अगले फ़ाइनेंशियल  ईयर में बताई गयी – टेबल 10,11,12 और  13

अतिरिक्त  टैक्स जो दिए  गए – टेबल 10 और 11

डिमांड  और रिफंड  की जानकारी – टेबल  15

कम्पोजीशन  करदाता द्वारा  मिला सप्लाइज – टेबल  16

HSN के  आधार पर  आउटवर्ड सप्लाइज  की संक्षिप्त जानकारी  – टेबल 17

HSN के  आधार पर  इनवर्ड सप्लाइज  की संक्षिप्त जानकारी – टेबल  18

 

स्टेप  4: प्रीव्यू  GSTR-9

आप  फॉर्म  का प्रीव्यू  PDF/Excel फ़ॉर्मेट  में देख सकते हैं 

PDF फॉर्मेट  में प्रीव्यू  के लिए: 

1.GSTR-9 डैशबोर्ड  में प्रीव्यू GSTR-9 (PDF) पर  क्लिक करें|

Simple Billing app by Vyapar

2.एक  ड्राफ्ट  डाउनलोड किया  जायेगा और अगर  आपको किसी बदलाव  की आवश्यकता लगती है  तो आप उसे ऑनलाइन GSTR-9 में  कर सकते हैं और ड्राफ्ट को दोबारा  जेनेरेट कर सकते हैं|

-Excel फॉर्मेट  में प्रीव्यू के  लिए:

  • GSTR-9 डैशबोर्ड  में प्रीव्यू GSTR-9 (Excel) पर  क्लिक करें|
  • एक  ड्राफ्ट  डाउनलोड किया  जायेगा और आप एक  लिंक देख पाएंगे|
  • Zip फाइल  को डाउनलोड  करने वाली लिंक  पर क्लिक करें और  आप यहाँ से संक्षिप्त  GSTR-9 एक्सेल फ़ॉर्मेट में  एक्सट्रेक्ट कर सकते हैं|
  • ड्राफ्ट  को अच्छे  से जांच ले  और अगर आपको किसी  बदलाव की आवश्यकता लगती  है तो आप उसे ऑनलाइन GSTR-9 में  कर सकते हैं और ड्राफ्ट को दोबारा  जेनेरेट कर सकते हैं|

 

स्टेप  5: टैक्स  लिएबिलिटीज़  और पेनल्टी   गिने 

कंप्यूट  लिएबिलिटीज़  पर क्लिक करने  से आपकी सभी जानकारी  को प्रोसेस कर दिया जायेगा| कोई  भी लेट फ़ीस (अगर फाइल करने में  देरी हुई है तो) होगी तो उसे भी जोड़  दिया जायेगा|

फाइलिंग  की प्रक्रिया  को आगे बढ़ाने के  लिए आपको एक कन्फर्मेशन  आएगा|

आप  इलेक्ट्रॉनिक  कैश लैजर में उपलब्ध  फ़ंड से पेमेंट कर सकते  हैं| अगर लैजर में फ़ंड पर्याप्त  नहीं है तो आप बाकी बचे पेमेंट दूसरा  पेमेंट चलन बनाकर नेटबैंकिंग के माध्यम से  भी कर सकते हैं|

नोट: जबतक  लेट फ़ीस नहीं  भरी जाएगी तब तक  आप GSTR-9 फाइल नहीं  कर पाएंगे|

 

स्टेप  6: फाइल  GSTR-9

Free Billing app by Vyapar

Easy Billing app by Vyapar

1.डिक्लेरेशन  चेकबॉक्स को  सेलेक्ट करें और  उसके बाद ‘ऑथोराइज़्ड सिगनटोरी’ को  सेलेक्ट करें|

2.‘फाइल  GSTR-9’ पर  क्लिक करें|

3.एप्लीकेशन  को सबमिट करने  के लिए 2 विकल्प  आएँगे:

4.A. DSC के  साथ फाइल  करें: सर्टिफ़िकेट  को ढूंढे और सेलेक्ट  करें| साइन (हस्ताक्षर) कर  के सबमिट करें|

5.B. EVC के  साथ फाइल  करें: आपके रजिस्टर्ड  मोबाइल नंबर और ईमेल ID पर  एक OTP भेजा जायेगा| OTP डालें| अगर  सफल रहा तो रिटर्न का स्टेटस ‘फाइल्ड’ में  बदल दिया जायेगा|

 

आप  शायद  यह भी  पढ़ना चाहेंगे: 

अगर  आपने GSTR-3B फाइल  नहीं किया है तो आपको  eWay बिल नहीं मिलेगा 

 10 आसान स्टेप GSTR 3B फाइल करने के लिए

GSTR 3B क्या  है? किसे फाइल  करना चाहिए ? ड्यू डेट  और फ़ॉर्मेट 

नए बिज़नेस टिप्स के उपदटेस के लिए जुड़े रहें Vyaparapp.in पर  

डाउनलोड करें बेहतरीन फ्री बिलिंग सॉफ्टवेयर

Happy Vyaparing!!!

Simple and secure billing app

You May Also Like

Leave a Reply