GST पर नई खबर: सैंतीसवी (37th ) GST परिषद् बैठक के मुख्य निश्चय

GST  परिषद कि सैंतीसवी (37th ) बैठक  20 सितम्बर को गोवा में हुई| केंद्र वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीथारमन जी ने मांग बढ़ाने के लिए कई गुड और सर्विस में से टैक्स घटाया है जिससे आप जैसे छोटे व्यापारियों को बहुत फायदा होगा|

सैंतीसवी (37th ) GST परिषद् में लिए गए मुख्य निस्चै यहाँ दिए गए हैं:

  • क्रोपोरेट टैक्स रेट को 34% से घटा कर 25.17% कर दिया गया है जो अप्रैल 2019 से लागू होगा. ( सेस और सरचार्ज इसमें शामिल हैं)
  • देशी कमापनियों (डोमेस्टिक कम्पनी) के लिए टैक्स को 34.9% से घटा कर 25.17% कर दिया गया है|
  • कंपनियां जिनका टर्नओवर Rs 400 cr  से काम है- प्रभावी कर ( इफेक्टिव टैक्स) को 29.15% से घटा कर 25.2% कर दिया गया है|टैक्स रेट कम होने कि वजह से कंपनी को जो मुनाफ़ा होगा वो अब कंपनियां अपने व्यवसाय को बढ़ाने  के लिए इस्तेमाल कर सकती है|
  • होटल के कमरे जिनका किराया Rs 1000/रात्रि से काम है उनपर कोई टैक्स नहीं लगेगा|
  • जिन होटल कमरों का किराया Rs 7,500 से अधिक है उनपर अब 28% कि जगह केवल 18 % टैक्स लगेगा|
  • स्लाइड फास्टनर्स, वेट गरिन्डेर्स, और मरीन फ़्यूल पर भी GST रेट घटाया गया है|
  • कफ्फैनटेड ब्रेवरेजेस जैसे कि क़ॉफ़ी, चाय, एनर्जी ड्रिंक, इत्यादि पर 40 % तक टैक्स रेट बढ़ाया गया है|
  • कम्पोजीशन टैक्सपेयर्स को अब FY 2017-2018 और FY 2018-2019 के लिए GSTR – 9A  फाइल करने कि आवश्यकता नहीं होगी|
  • अप्रैल 2020  से नया और आसान GST रिटर्न लागु किया जायेगा|
  • अगर आपका टर्नओवर Rs 2cr तक है तो GSTR – 9 आपके लिए वैकल्पिक  होगा. आप इस बार चाहे तो इसे फाइल कर सकते हैं या नहीं|
  • अगर आपने GSTR – 1 फाइल नहीं किया है तो आप अपना ITC क्लेम नहीं कर पाएंगे|
  • इंटेग्रेटेड रिटर्न सिस्टम लागू होने कि वजह से 24 सितम्बर से आपको आपके GST रिफंड जल्दी प्राप्त हो जायेंगे|
  • GST पंजीकरण करते वक़्त आपको अपना आधार कार्ड देना अब अनिवार्य होगा|
  • GST रिटर्न क्लेम करने के लिए अब शयद आधार कार्ड अनिवार्य हो|
  • CESS टैक्स, छोटी गाड़ियों के लिए अब काम कर दिया गया है|
  • अब किसी भी नई डोमेस्टिक मनुफक्चुरेन्ग व्यवसाय या सब्सिडियरीस ( अगस्त 1 , 2019 या उसके बाद) को 15% या 17 % टैक्स देना होगा| पर उसके लिए यह शर्त है कि उन्हें अपना उत्पादन 2023 वित्त वर्ष के अंत से पहले शुरू करना होगा|

कुल मिलकर टैक्स रेट काम होने कि वजह से MSMEs को बहुत फायदा होगा जिससे अर्थव्यवस्था में काफी बढ़ावा होगा|

नई GST ख़बरों के बारे में आपके क्या विचार हैं? कृपया नीचे कमेंट करें|    

GST से संबंध्ति और नई खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ Vyaparapp.in पर।

बेहतरीन GST Accounting Software डाऊनलोड करें 

Happy Vyaparing!!!

vyaparapp, business accounting, invoicing app. billing, create invoice

You May Also Like

Leave a Reply