बिज़नेसमैन को अब बिना कोई देरी किए जीएसटीआर-9 की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए

मई ख़त्म हो चुका है! जून शुरू हो गया है! आपके जैसे जीएसटी टैक्स भरने वालों को ये बातें मालूम होनी चाहिए:   ✔ वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए GSTR -9 फ़ाइल करने की आखिरी तारीख़ 30 जून 2019 है। ✔ अगर आप कंपोजिशन स्कीम टैक्सपेयर या ई-कॉमर्स ऑपरेटर हैं, तो आपको दूसरे फॉर्म (GSTR…

Read More...

Vyapar की मदद से जीएसटीआर-1 (GSTR-1) कैसे तैयार करें?

क्या आप रेगुलर जीएसटी के तहत रजिस्टर्ड हैं? अगर आपका जवाब हाँ है तो आपको अपना GSTR-1 रिटर्न्स हर महीने की 10 तारीख़ तक फ़ाइल करना चाहिए। ख़ुद से GSTR-1 तैयार करना बहुत  मुश्किल काम हो सकता है। लेकिन, Vyapar जैसे बिज़नेस अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर से आप यह काम बस कुछ ही पलो में कर सकते…

Read More...

नई जीएसटी प्रणाली को लागु होने में देरी

जीएसटी रिटर्न फाइल करना हमेशा से ही एक मुश्किल काम था! हैना? सौभाग्य से सरकार ने नई जीएसटी प्रणाली लागु करने का वादा किया था जो आपको 1 अप्रैल 2019 से उपलब्ध हो जानी चाहिए थी| लेकिन ऐसा हुआ नहीं, इसमें देरी हो गई है| नई तारीख़ पर जल्द ही फैसला लिया जाएगा जब नया…

Read More...

ख़ुशख़बरी: GSTR-9 फाइल करने की आखिरी तारीख़ बढ़कर 31 मार्च, 2019 हो गई है

Vyapar, GSTR-9, business accounting

अगर आप एक GST रजिस्टर्ड बिज़नेसमैन हैं जो 31 दिसंबर की आख़िरी तारीख़ से जूझ रहे हैं, तो इतने सारे काम को हल्का करने के लिए हमारे पास आपके लिए एक अच्छी खबर है| जैसा कि देखा जा सकता है, GSTR-9 का सालाना रिटर्न फ़ाइल करने की आख़िरी तारीख़ 31 दिसंबर 2018 थी। GST का…

Read More...

क्या आप GST/जीएसटी -कंप्लायंस के डर से छुटकारा पाना चाहते हैं?

Business, digital, vyapar, accounting

क्या अभी भी आपके पास GST/जीएसटी-कम्प्लाएन्ट होने के लिए सही सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर नहीं है? अगर आप अभी भी जीएसटी-कम्प्लाएन्ट नहीं हैं तो उसके उल्लंघन पर लगने वाले जुर्माने के बारे में सोच कर आपको बुरे सपने आ रहे होंगे! अगर आप  GST-कंप्लायंस के डर से छुटकारा पाने का रास्ता ढूँढ रहे हैं, तो सबसे…

Read More...

क्या आपको मैन्युअल बिज़नेस अकॉउंटिंग प्रक्रिया से छुटकारा चाहिए?

अगर आप  एक छोटे बिज़नेस के मालिक हैं और खुद ही अपने अकाउंट्स की देख-रेख करते हैं वो भी बिना किसी सॉफ्टवेयर की मदद से, तो अब तक तो आप काफ़ी परेशान हो चुके होंगे! आपको ऐसा नहीं लगता कि आपका सारा समय बिज़नेस की बजाय अकॉउंटिंग में ही चला जाता है? सबसे पहली बात…

Read More...

क्यों आपके बिज़नेस को स्प्रैडशीट्स की अव्यवस्था से छुटकारा पाने की ज़रुरत है?

क्या आप अभी भी अपने बिज़नेस से सम्बंधित अकॉउंटिंग जैसे कि देनदारी, लेनदारी और भी बहुत कुछ का रिकॉर्ड रखने के लिए स्प्रेडशीट तकनीक पर ही अटके हुए हैं? तो जागिए! ना तो हम पुराने ज़माने में जी रहे हैं और ना ही आजकल के इस आधुनिक दौर में वह पुराने तरीके हमारे काम आते…

Read More...

सर्विसेज़ जो GST के तहत सस्ती हो रही हैं

GST की दरों में कुछ ऐसे नए बदलाव आएँ हैं जिससे नीचे बताई गईं सर्विसेज़ कम महँगी हो रही हैं: विवरण   पहले की दरें    बदली हुई दरें हेडिंग 9965 के तहत वर्गीकृत- वस्तुओं का  मल्टी -मॉडल ट्रांसपोर्टेशन 18% 12% ई-बूक्स की सप्लाई जिसका प्रिन्ट वर्शन हैडिंग 9984 के तहत वर्गीकृत है   18%…

Read More...

आईटीआर(ITR)(नॉन-ऑडिट मामलों के लिए ) भरने की आख़िरी तारीख़ 31 अगस्त तक बढ़ा दी गई है

ITR, business accounting, income tax, due date

नॉन-ऑडिट मामलों में टैक्स देने वालों के लिए, जिन्होंने अब तक अपना  इनकम टैक्स/आयकर रिटर्न नहीं भरा है यहाँ एक अच्छी खबर है। वित्त मंत्रालय ने आईटीआर(ITR) (इनकम टैक्स/आयकर रिटर्न) भरने की आख़िरी तारीख 31 जुलाई 2018 से 31 अगस्त 2018  तक बढ़ाने की घोषणा की है। अगर आप उन टैक्स देने वालों/करदाताओं की श्रेणी…

Read More...

कंसोलिडेटेड क्रेडिट / डेबिट नोट हमें बहुत बड़ी राहत देगा: ये कहना है छोटे बिजनेसमैन का

Debit/Credit Note,GST, business, invoicing

         वर्तमान में, रजिस्टर्ड बिजनेसमैन द्वारा जारी किए गए क्रेडिट / डेबिट नोट को इनवॉइस के हिसाब से जमा कराना पड़ता है, जो कि बिजनेसमैन के लिए बहुत ही मुश्किल है, क्योंकि हर इनवॉइस का सही तरीके से मिलान करना पड़ता है|  इससे टैक्स देने वालों के लिए कम्प्लाइंस बोझ बढ़ जाता…

Read More...