‘व्यापार’ सॉफ्टवेयर के बिज़नेस अकाउंटिंग फीचर की लिस्ट

अपने कैश फ्लो को मैनेज करने के लिए एक अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर ढूंढ रहे हैं? पहली नज़र में, ऐसा लगता है कि सभी अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर काफी हद तक एक जैसे हैं। लेकिन, संभावना है कि बहुत कम अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर आपके बिज़नेस की जरूरतों से एकदम  मेल खाएँगे । इस कारण से, आपको 3 चीजों को समझने…

Read More...

क्या आप कैश बनाने के बदले कैश गिन रहे हैं ? बिज़नेस-अकॉउंटिंग को ‘ना’ कहें   !!!

Business accounting, Accounting software, vyapar

देखिये, आपने अपना बिज़नेस पैसे ट्रैक करने के लिए शुरू नहीं किया है – पैसे बनाने के लिए शुरू किया है | है, ना ? निश्चित रूप से, खुद का  बिज़नेस शुरू करना मतलब, ग्राहकों को सर्विस देना , इन्वेंट्री (सामान) खरीदना, बिलिंग और कई ऐसे काम, जो किसी के लिए भी मुश्किल हैं, आपको…

Read More...

अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर अकॉउंटिंग प्रोफेशनल्स के लिए है ना कि बिज़नेसमैन के लिए

छोटा बिज़नेस होने के नाते , यदि आपको अपने पैसे को  ट्रैक करने में परेशानी हो रही है और अगर आप सोच रहे हैं कि अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर आपकी परेशानी को दूर करेगा| तो  ध्यान रहे! आप ज़्यादा परेशानियों में पड़ सकते हैं| जाहिर है, हर कंपनी अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर का लाभ नहीं उठा सकती है। असल…

Read More...

अच्छे इनवॉइस, तेज़ पेमेंट और अच्छे बिज़नेस के लिए 5 टिप्स(तरीके)

invoice tips, vyapar, accounting software, business accounting, book keeping, billing

क्या आप जानते थे? एक इनवॉइस आपके बिज़नेस के बारे में बहुत कुछ बता सकता है | यहाँ कुछ टिप्स(तरीके) दिए गए हैं, जो आपको तथा आपके बिज़नेस को सफलता दिला सकते हैं  | टिप  #1 इन्वॉइसेज पर सिग्नेचर्स (हस्ताक्षर) और लोगो (LOGO) लगाने से आपका बिज़नेस एकदम से और विश्वसनीय लगने लगता है |…

Read More...

8 फैक्ट्स (बातें ) जो आपको GST के बारे में ज़रूर मालूम होनी चाहिए !

GST_facts, GST facts in hindi, vyapar, accounting software

फैक्ट #1      फ्रांस पहला देश था जिसने सबसे पहले 1954 में GST लागू किया | फैक्ट #2 लगभग  17 साल बीत चुके हैं, जब पहली बार GST के बारे में इंडिया में बात की गई थी | फैक्ट #3 दुनिया के करीब 160 देशों में GST लागू है| फैक्ट #4 शराब, पेट्रोल, बिजली को GST…

Read More...

इस फाइनेंशियल ईयर (वित्तीय वर्ष) के लिए ” क्लोज़ बुक” कैसे और क्यों करें ?

close books, vyapar, financial year end, accounting software, business accounting

” क्लोज़ बुक” फाइनेंशियल ईयर का एक मजबूत भाग  है – प्रत्येक बिज़नेस का आखिरी प्रोसेस। तो, ये  “क्लोज़ बुक” क्या है? “क्लोज़ बुक” एक अकॉउंटिंग प्रोसेस है जहां आप अपने पिछले साल के अकाउंट बैलेंस को (आमदनी और खर्चे के अकॉउंटस ) को ख़ाली करते हैं । जिससे आप नए साल में नए सिरे…

Read More...

फाइनेंशियल ईयर (वित्तीय वर्ष) के अंत के आखरी मिनट में होने वाले तनाव से कैसे बच सकते हैं!

Financial year end, taxes, accounting software

फाइनेंशियल ईयर (वित्तीय वर्ष) के अंत के आखरी मिनट में होने वाले तनाव से कैसे बच सकते हैं!   मार्च का अंत बहुत नज़दीक आ रहा है!!! बहुत से छोटे व्यापारों के लिए, फाइनेंशियल ईयर का अंत डरावना होता है | ऐसे समय में  आपको लगता है कि – “बिज़नेस शुरू करना आसान है, पर…

Read More...

Track Invoices Better with Bill-Wise Tracking Feature of VYAPAR

Business accounting, Bill wise tracking, Vyapar app, accounting software

Know How The New Bill-Wise Tracking Feature of Vyapar Helps You Track Invoices Better! Being a Small Business Owner, you might face the difficulty of tracing payments received/ not yet received/ Partially paid. Especially where the payments are not instantly made, matching the right payment with right invoice becomes too much work. For eg: Imagine…

Read More...

इस फाइनेंशियल ईयर (वित्तीय वर्ष) के अंत में उन इनवॉइसेज का क्या करें जिनका भुगतान नहीं हुआ है

Financial Year End, Business Accounting, Small Business, Financial Year end

मार्च का महीना बचे हुए भुगतानों को लेने का होता है | ये बहुत जरूरी है कि  2017-18 साल की फाइनेंस बुक को बंद करने से पहले आप अपने बकाया इनवॉइसेज का भुगतान ले लें, जिससे कि आपका 2018-19 अच्छा रहे | असल में, आपको ऐसे बहुत सारे लोग मिलेंगे जो बकाया राशि का भुगतान…

Read More...